देश का अन्नदाता किसान👳💦

देश का अन्नदाता किसान अपना अस्तित्व खो रहा है अपना शत प्रतिशत योगदान देकर भी,  वो विकास में पिछड़ रहा है। देश का कर्णधार, देश का पालनहार, किसान से मजदूर, और मजदूर से बेलदार हो रहा है। बेशक सरकारें भी आती है, और साथ में बजट भी लाती है।  कुछ पल की आस किसान को भी बंधवा ही जाती है।…

Continue Reading →